Tuesday, June 25, 2024
spot_img
HomePrayagrajLok Sabha Chunav : भीतर पैरामिलिट्री, इंट्री प्वाइंट पर पीएसी तो बाहर...

Lok Sabha Chunav : भीतर पैरामिलिट्री, इंट्री प्वाइंट पर पीएसी तो बाहर होगा पुलिस का पहरा

चुनाव ड्यूटी के लिए मतदान केंद्रों पर शाम तक सुरक्षा में तैनात फोर्स पहुंच गई। इसमें पुलिस व पैरामिलिट्री के साथ ही पीएसी भी शामिल है। प्रत्येक मतदान केंद्रों के भीतर पैरामिलिट्री के जवान सुरक्षा का जिम्मा संभालेंगे। पैरामिलिट्री में बीएसएफ, आईटीबीपी, सीआरपीएफ, सीआईएसएफ, एसएसबी और आरएएफ के जवान चुनाव ड्यूटी के लिए मतदान केंद्रों पर तैनात किए गए हैं।

लोकसभा चुनाव के लिए शनिवार को मतदान त्रिस्तरीय सुरक्षा घेरे में कराया जाएगा। केंद्रों के भीतर पैरामिलिट्री तैनात रहेगी तो प्रवेश द्वारों पर पीएसी के जवान मुस्तैद किए जाएंगे। बाहर पुलिस का पहरा होगा। मतदान केंद्रों के भीतर ही नहीं, बल्कि आसपास की हर गतिविधि पर नजर रखने के लिए लाइव मॉनिटरिंग भी की जाएगी।

चुनाव ड्यूटी के लिए मतदान केंद्रों पर शाम तक सुरक्षा में तैनात फोर्स पहुंच गई। इसमें पुलिस व पैरामिलिट्री के साथ ही पीएसी भी शामिल है। प्रत्येक मतदान केंद्रों के भीतर पैरामिलिट्री के जवान सुरक्षा का जिम्मा संभालेंगे। पैरामिलिट्री में बीएसएफ, आईटीबीपी, सीआरपीएफ, सीआईएसएफ, एसएसबी और आरएएफ के जवान चुनाव ड्यूटी के लिए मतदान केंद्रों पर तैनात किए गए हैं।

इसके अलावा प्रवेश द्वारों पर पीएसी के जवान मुस्तैद किए जाएंगे। यह सुनिश्चित करेंगे कि मतदान केंद्र के भीतर कोई भी अनाधिकृत व्यक्ति प्रवेश न करे। मतदान केंद्र के बाहर और आसपास सुरक्षा व्यवस्था की जिम्मेदारी पुलिस की होगी। संबंधित थाना की पुलिस के साथ ही चुनाव ड्यूटी के लिए बाहर से आए पुलिसकर्मी यहां तैनात रहकर शांतिपूर्ण मतदान सुनिश्चित करेंगे।

22 हजार जवानों की होगी तैनाती

मतदान के लिए शनिवार को पूरे जनपद में 22 हजार जवानों की तैनाती की जाएगी। इनमें सेंट्रल आर्म्ड पुलिस फोर्स के साथ ही पुलिस, पीएसी व होमगार्ड के जवान शामिल होंगे। सीएपीएफ व पीएसी को मिलाकर 50 से ज्यादा कंपनियां चुनाव ड्यूटी में लगाई गई हैं। होमगार्ड के पांच हजार जवान भी सुरक्षा व्यवस्था में मुस्तैद किए गए जवानों के सहयोग के लिए लगाए गए हैं।

यूपी के अलावा चार राज्यों की पुलिस

पैरामिलिट्री के साथ ही इस बार दूसरे राज्यों की पुलिस भी चुनाव ड्यूटी में लगाई गई हैं। इनमें तेलांगाना, केरल, मणिपुर व पंजाब राज्य की पुलिस शामिल है। इनको मतदान केंद्र के आसपास की सुरक्षा व्यवस्था के साथ ही क्यूआरटी में भी तैनात किया गया है। क्रिटिकल मतदान केंद्रों पर सुरक्षा व्यवस्था कायम रखने के लिए ड्राेन का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। फिलहाल, इसका निर्णय संवेदनशीलता के आधार पर लिया जाएगा।

42 क्यूआरटी भी दौड़ेंगी

सभी थाना क्षेत्रों में मतदान के दौरान शांति व्यवस्था कायम रखने के लिए क्यूआरटी का भी गठन किया गया है। प्रत्येक क्यूआरटी में एसआई के साथ ही हेड कांस्टेबल व कांस्टेबल के साथ 10 पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं। इसके अलावा दो-दो होमगार्ड भी लगाए गए हैं। किसी भी अप्रिय सूचना पर क्यूआरटी तत्काल मौके पर पहुंचकर स्थिति को नियंत्रित करेगी। इसके अलावा सेक्टर, जोनल व सुपर जाेनल अफसर भी लगातार भ्रमणशील रहकर हालात पर नजर बनाए रखेंगे।

डायल 112 की गाड़ियों से लेंगे लाइव फीड

विधानसभा चुनाव की तरह इस बार भी मतदान केंद्रों के आसपास की गतिविधियों पर सतत निगाह बनाए रखने के लिए डायल 112 की गाड़ियों की मदद ली जाएगी। चिह्नित मतदान केंद्रों के बाहर डायल 112 की चारपहिया गाड़ियां मौजूद रहेंगी। इन पर लगे सर्विलांस कैमरों से मिलने वाली फीड की जरूरत पड़ने पर आईट्रिपलसी से लाइव मॉनिटरिंग की जाएगी। गौरतलब है कि डायल 112 की चारपहिया गाड़ियों पर 360 डिग्री पर घूमने वाले सर्विलांस कैमरे इंस्टाल किए गए हैं।

जवानों को सभी मतदान केंद्रों पर मुस्तैद कर दिया गया है। मोबाइल टीमें भी बनाई गई हैं, जो मतदान के दौरान अपने-अपने क्षेत्रों में भ्रमणशील रहेंगी। सुरक्षा के संंबंध में पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। – सतीश चंद्र, एडीसीपी अपराध व नोडल लोकसभा चुनाव

 

Courtsyamarujala.com

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments