Wednesday, May 29, 2024
spot_img
HomePrayagrajमतदान राष्ट्र के विकास के लिए आवश्यक*:—न्यायमूतिॅ अजीत कुमार

मतदान राष्ट्र के विकास के लिए आवश्यक*:—न्यायमूतिॅ अजीत कुमार

मतदान एक पूजा है जिसे करने से राष्ट्र के विकास की दशा और दिशा तय होती है और अपेक्षित परिणाम मिलते हैं। हो सकता है की मौसम एवं सुविधाएं प्रतिकूल हो, फिर भी पूरे जोश खरोश से मतदान करने से अनुकूल राष्ट्रीय परिणाम मिलते हैं ।

ये उदगार इलाहाबाद उच्च न्यायालय के न्यायमूर्ति अजीत कुमार ने कमला प्रसाद सोसायटी ऑफ इंडस्ट्रियस फैमिलीज द्वारा कमला नेहरू रोड स्थित शंकर लाल मेमोरियल सभागार में आयोजित जागरूक मतदाता: विकसित राष्ट्र विषयक विचार गोष्ठी में व्यक्त किया ।

न्यायमूर्ति अजीत कुमार ने आगे कहा कि नागरिकों को केवल मतदाता ही नहीं होना चाहिए बल्कि जागरूक मतदाता बनकर राष्ट्र के आर्थिक और सामाजिक स्वतंत्रता हेतु न केवल स्वयं मतदान करना चाहिए बल्कि दूसरों को भी प्रोत्साहित करना चाहिए तभी राष्ट्र अपने विकास के समग्र उद्देश्यों को प्राप्त कर सकेगा।

इसके पूर्व ईश आराधना के उपरांत मुख्य अतिथि ने दीप प्रज्वल कर गोष्ठी का विधिवत प्रारंभ किया। कमला प्रसाद सोसाईटी की अध्यक्ष श्रीमती रतन श्रीवास्तव ने सोसाइटी द्वारा किए गए कार्यों पर विस्तार से प्रकाश डाला और मतदान हेतु अपनी भूमिका बढ़ाने की का संकल्प लिया।

गोष्ठी का विषय प्रवर्तन करते हुए वरिष्ठ जर्नलिस्ट डॉक्टर प्रदीप भटनागर लोकतंत्र एवं मतदान के आलोक में जागरुक एवं सतर्क रहने पर बल दिया। जबकि वरिष्ठ जर्नलिस्ट स्नेह मधुर ने सामान्य मतदान करने और जागरुक मतदान करने के अंतर के परिणामों से अवगत कराया।

कायस्थ पाठशाला के अध्यक्ष डॉ सुशील सिंहा ने अनेक सरकारी एवं गैर सरकारी प्रयासों के बावजूद मतदान प्रतिशत न बढ़ने और इसके गिरने पर चिंता व्यक्त की। डॉक्टर सिन्हा ने सघन जनसंपर्क कर मतदान प्रोत्साहन का प्रयास करने के लिए उपस्थित जन का आवाहन किया। अवकाश प्राप्त आई ए एस राम शरण वर्मा ने अपने कार्यकाल के अनुभवों को साझा करते हुए मतदान प्रतिशत बढ़ाने के उपाय सुझाए।

गोष्ठी में सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित कर मतदान करने और जन सामान्य को मतदान हेतु प्रोत्साहित करने का संकल्प भी लिया गया।

इस अवसर पर सर्वश्री कुणाल रवि सिंह , जे एन मौर्य, अरविंद श्रीवास्तव, अर्चना श्रीवास्तव, सुनील श्रीवास्तव,यश सिंघल एवं आलोक नारायण श्रीवास्तव को विधि के क्षेत्र में, बृजेश श्रीवास्तव को अध्यापन के क्षेत्र में, कुंदन श्रीवास्तव एवं पवन द्विवेदी को पत्रकारिता के क्षेत्र में तथा विद्यार्थी विवेकिता रंजन श्रीवास्तव को अध्ययन के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान दिए जाने पर सम्मानित भी किया गया ।

समस्त कार्यक्रम की अध्यक्षता कायस्थ पाठशाला के पूर्व अध्यक्ष एवं वरिष्ठ अधिवक्ता टी पी सिंह एवं संचालन कायस्थ पाठशाला के उपाध्यक्ष (संपत्ति एवं समन्वय) धीरेंद्र श्रीवास्तव ने किया।

आए हुए अतिथियों का स्वागत कमला प्रसाद सोसाइटी के उपाध्यक्ष गोविंद खरे एवं धन्यवाद ज्ञापन कार्यक्रम संयोजक वैभव श्रीवास्तव ने किया ।

विचार गोष्ठी में सैकड़ो माननीय नागरिक उपस्थित रहे जिनमे सर्वश्री अनूप श्रीवास्तव,अभिनव श्रीवास्तव,अनीता श्रीवास्तव,शिव नारायण सुराही,हिमांशु श्रीवास्तव संपन्न जी,राकेश कुमार,अजय कुशवाहा,उदय कुमार एवं गोपी कृष्ण श्रीवास्तव इत्यादि प्रमुख रहे।

 

Anveshi India Bureau

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments