Tuesday, April 16, 2024
spot_img
HomePrayagrajअंशू पांडे कायॅकारी निदेशक रेलवे बोडॅ ने संचालन नियंत्रण केंद्रं का निरीक्षण...

अंशू पांडे कायॅकारी निदेशक रेलवे बोडॅ ने संचालन नियंत्रण केंद्रं का निरीक्षण किया

अंशू पांडे, कार्यकारी निदेशक (रणनीतिक योजना कार्यान्वयन) रेलवे बोर्ड ने ईस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर के संचालन नियंत्रण केंद्र का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कार्यकारी निदेशक ने विभिन्न विभागों के नियंत्रकों जैसे यातायात नियंत्रक के साथ मुलाकात की और उस तकनीक से अवगत हुए जिसका उपयोग पूर्वी समर्पित माल गलियारे में सुरक्षित ट्रेन संचालन के लिए ऑपरेशन नियंत्रण केंद्र में किया जा रहा है। उन्होंने ऑपरेशन नियंत्रण केंद्र में उपयोग हो रहे उपकरणों की प्रशंसा की। . अंशू पांडे, कार्यकारी निदेशक, ने भविष्य में कंट्रोल के काम करने के तरीकों और प्रौद्योगिकी को देखते हुए जिसका उपयोग आने वाले भविष्य में समर्पित माल गलियारों और भारतीय रेलवे के बीच किया जाएगा के बारे में चर्चा की । उन्होंने केंद्रीकृत यातायात नियंत्रण के माध्यम से काम करने वाले विभाज्य नियंत्रण केंद्रों और ट्रेन संचालन नियंत्रण पर भी चर्चा की, जिसका वर्तमान में टूंडला में उपयोग किया जा रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर और मुंबई मेट्रो में जिस ट्रेन मैनेजमेंट सिस्टम का इस्तेमाल किया जा रहा है, वह काबिलेतारीफ है ।

उन्होंने ईडीएफसी में सुरक्षित ट्रेन संचालन को प्राप्त करने के लिए लाइव ट्रेनों के चलने के साथ ट्रेनों की लाइव दृश्यता के लिए एकीकरण के कारण माल संचालन सूचना प्रणाली और नियंत्रण कार्यालय एप्लिकेशन में समर्पित माल सूचना प्रणाली और डेटा ट्रांसफर के एकीकरण की भी प्रशंसा की। अंशू पांडे कार्यकारी निदेशक (रणनीतिक योजना कार्यान्वयन) रेलवे बोर्ड का रेलवे में पिछले 18 वर्षों का ट्रेन संचालन का अनुभव है, इस से पहले रेलवे बोर्ड में उन्हें निदेशक दरों के रूप में नियुक्त किया गया था। उनका समृद्ध ज्ञान और दृष्टिकोण डीएफसी और भारतीय रेलवे में उपयोग की जाने वाली अत्यधिक तकनीकी चीजों और प्रगति को आकर्षित करेगा।

उनका दृष्टिकोण डीएफसीसीआईएल को डिजिटल पहल की निगरानी करने में समृद्ध करेगा, जिसमें इंटर्नेंट ऑन थिंग्स (आईओटी), कृत्रिम बुद्धिमत्ता और बहुस्तरीय आधारित प्रणाली और कार्यान्वयन रणनीतियों के साथ भारतीय रेलवे के लिए रणनीतिक योजनाओं का विकास और समय सीमा के वितरण की निगरानी शामिल है।

इस निरिक्षण के दौरान ए बी सरन, CGM/PRYJ(E), आशीष मिश्रा, CGM/PRYJ(W), मन्नू प्रकाश दुबे,AGM/OP&BD/PRYJ उपस्थित रहे ।

 

Anveshi India Bureau

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments