Wednesday, May 29, 2024
spot_img
HomePrayagrajAtiq Ahmed : मौत के साथ मिट्टी में मिला माफिया अतीक का...

Atiq Ahmed : मौत के साथ मिट्टी में मिला माफिया अतीक का साम्राज्य, शूटरों पर अब तक आरोप तय नहीं

प्रयागराज सहित कई जनपदों में कई जनपदों में दहशत का पर्याय बने अतीक अहमद और अशरफ की हत्या को 15 अप्रैल को एक साल पूरे हो जाएंगे। कॉल्विन अस्पताल के गेट पर हुई गोलीबारी की घटना के पूरे देश को झकझोर कर रख दिया था। तीन शूटरों ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसाकर माफिया बंधुओं को मौत की नींद सुला दी।

15 अप्रैल 2023 समय करीब सवा नौ बजे तीन नौजवानों ने गोलियां बरसा कर माफिया अतीक अहमद और अशरफ के साथ ही उनके जुर्म के साढ़े तीन दशक पुराने साम्राज्य को मिट्टी में मिला दिया। लेकिन, सालभर बाद भी गवाही से गुजरना तो दूर आरोप भी तय नहीं हो सके।

13 जुलाई को आरोप पत्र दाखिल

पुलिस अभिरक्षा में बेखौफ हत्या को अंजाम देने वाले लवलेश तिवारी, सनी सिंह और अरुण मौर्या को पुलिस ने मौके से गिरफ्तार किया। 89 दिन चली विवेचना के बाद 13 जुलाई 2023 को एसआईटी ने जिला अदालत में तीनों हत्यारोपियों के खिलाफ 56 पेज का आरोप पत्र, दो हजार पेज की केस डायरी के साथ दाखिल किया। इसके बाद प्रतापगढ़ जिला जेल में बंद हत्यारोपियों की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये पेशी शुरू हुई।

नहीं मिला वकील, टल गई तारीख

विचारण के शुरुआती चरण में आरोप तय किए जाने की पहली तारीख दस अगस्त नियत थी, लेकिन आरोपियों की गुजारिश पर अदालत ने वकील नियुक्त करने की मोहलत दे दी। फिर शुरू हुआ सिलसिला तारीख पर तारीख का, जो अब तक खत्म नहीं हुआ। हालांकि, अगली तारीख 16 अगस्त को लवलेश तिवारी और अरुण मौर्य की ओर से अधिवक्ता गौरव सिंह नियुक्त किए गए, लेकिन सनी सिंह वकील नहीं कर सका। बाद में अदालत के आदेश पर एमिकस क्यूरी के तौर पर सरकार ने उनकी पैरवी के लिए रत्नेश शुक्ला को नियुक्त किया।

 

Courtsyamarujala.com

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments