Saturday, July 13, 2024
spot_img
HomePrayagrajPrayagraj : भाजयुमो के प्रदेश उपाध्यक्ष पर जानलेवा हमला, सफारी सवार युवकों...

Prayagraj : भाजयुमो के प्रदेश उपाध्यक्ष पर जानलेवा हमला, सफारी सवार युवकों ने दौड़ाकर पीटा, अपहरण की कोशिश

भाजयुमो के प्रदेश उपाध्यक्ष रोहित मिश्र पर बीतीरात जानलेवा हमला किया गया। धारदार हथियारों से लैस दो युवक सफारी गाड़ी से पहुंचे और उनकी पिटाई शुरू कर दी। भागने पर उनको दौड़ाकर पीटा गया। अपहरण का भी प्रयास किया गया। इस मामले में अज्ञात हमलावरों के खिलाफ कर्नलगंज थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया है।

मम्फोर्डगंज में भाजयुमो के प्रदेश उपाध्यक्ष व इविवि छात्रसंघ में पूर्व अध्यक्ष रोहित मिश्रा पर बृहस्पतिवार देर रात जानलेवा हमला किया गया। सफारी सवार दो लोगों ने धारदार हथियार से हमला किया। इससे उनका सिर फट गया। हमलावर इसके बाद भी उन पर ताबड़तोड़ वार करते रहे। पुलिस ने सफारी के नंबर के आधार पर दो अज्ञात पर रिपोर्ट दर्ज की है।

रोहित कुमार मिश्र पुत्र देवेंद्र नाथ मिश्रा मूलरूप से सेनानी नगर, करनपुर, प्रतापगढ़ के हैं। वर्तमान में वह मम्फोर्डगंज स्थित विनायक विहार अपार्टमेंट, बलरामपुर हाउस में रहते हैं। वह 2016 में इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्रसंघ अध्यक्ष निर्वाचित हुए। 2021 में उन्हें भाजयुमो का प्रदेश उपाध्यक्ष बनाया गया। उन्होंने बताया कि बृहस्पतिवार रात करीब 1:15 बजे खाना खाने के बाद वह टहलने निकले थे।

इसी दौरान तेज रफ्तार में आई सफेद रंग की सफारी से उन्हें कुचलने का प्रयास किया गया। किसी तरह बगल भागकर उन्होंने जान बचाई। इसके बाद सफारी चालक एक अन्य व्यक्ति के साथ उतरा और उन पर धारदार हथियार से हमला बोल दिया। अचानक हुए वार में उनका सिर फट गया और वह जमीन पर गिर पड़े।

इसके बाद भी जान से मारने की नीयत से उनके हाथ-पैर और शरीर के अन्य हिस्सों पर ताबड़तोड़ वार किए गए। हमले में वह बेहाेश हो गए। होश आने पर चेन व पर्स, जिसमें 2200 रुपये थे, गायब मिले। रोहित ने बताया कि हमलावर कौन थे और उन पर हमला क्यों किया, उन्हें नहीं पता। उनसे किसी तरह का कोई विवाद भी नहीं है। सुबह उन्होंने थाने पहुंचकर तहरीर दी।

सीसीटीवी कैमरे में वारदात कैद

वारदात सीसीटीवी कैमरे में भी कैद है। इसमें कुछ लोग रोहित पर हमला करते दिख रहे हैं। इसमें उनकी आवाज भी सुनाई पड़ रही है। मारपीट के वक्त वह गालीगलौज भी करते सुनाई पड़ते हैं। इस दौरान पुलिस के अफसर का पदनाम लेकर भी हमलावरों की ओर से अभद्र भाषा का प्रयोग किया जाता है। पुलिस सूत्रों का कहना है कि जांच-पड़ताल में यह बात सामने आई है कि हमलावर मम्फोर्डगंज के ही रहने वाले हैं और गर्ल्स हॉस्टल का संचालन करते हैं। मोहल्ले में उनकी दबंगई के चर्चे आम हैं। छह महीने पहले विवाद के बाद एक मजदूर को छत से धकेलने का भी आरोप उन पर लगा था।

आरोपियों की पहचान कर ली गई है। दोनों पक्ष एक ही मोहल्ले के रहने वाले हैं। उनमें गाड़ी हटाने को लेकर विवाद हुआ था। जांच-पड़ताल की जा रही है। -राजीव कुमार यादव, एसीपी कर्नलगंज

Courtsyamarujala.com
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments