Monday, April 22, 2024
spot_img
HomePrayagrajशिक्षक की हत्या पर आक्रोश, सख्त कार्रवाई की मांग

शिक्षक की हत्या पर आक्रोश, सख्त कार्रवाई की मांग

उप्र माध्यमिक शिक्षक संघ (एकजुट) ने मुजफ्फरनगर में वाराणसी के शिक्षक धर्मेन्द्र कुमार की हत्या के विरोध में आज मूल्यांकन से विरत रहते हुए घटना की निंदा करते हुए मृत शिक्षक को श्रद्धांजलि अर्पित किया। एकजुट के प्रदेश संरक्षक डॉ. हरिप्रकाश यादव ने बताया कि सुबह – सुबह सूचना मिली है कि उत्तर पुस्तिकाओं को पहुंचाने मुजफ्कर नगर गये थे । वहां पर वाराणसी के शिक्षक धर्मेन्द्र कुमार की हत्या उसी ट्रक में सुरक्षा हेतु तैनात आरक्षी चन्द्रप्रकाश द्वारा कर दी गयी है । यह घटना अत्यंत दु:खद है। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ एकजुट इसकी निंदा करता है एवं प्रदेश के सभी शिक्षक जो मूल्यांकन कार्य में लगे हैं से आह्वान करता है कि आज शोक मनाते हुए मूल्यांकन कार्य से विरत रहें ।

एकजुट के प्रदेश संरक्षक डा हरिप्रकाश यादव ने सरकार से मांग करता है कि धर्मेन्द्र कुमार के परिवार को 2 करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान किया जाय ।

डॉ. हरिप्रकाश यादव ने कहा कि मृत शिक्षक के दो आश्रितो को सरकारी नौकरी एवं परिवारिक पेंशन दिया जाय ,मृत शिक्षक के बच्चों की पढ़ाई का खर्च सरकार उठाये,हत्यारोपी आरक्षी को फास्ट ट्रैक कोर्ट में सुनवाई कराकर कड़ी से कड़ी सजा दी जाय ताकि भविष्य में इस तरह की घटना न हो। एकजुट के संरक्षक डा हरिप्रकाश यादव और प्रदेश उपाध्यक्ष उपेन्द्र वर्मा ने बताया कि प्रयागराज के सभी मूल्यांकन केंद्रों में शिक्षकों ने एकता का परिचय देते हुए अपने मृत साथी के लिए आज मूल्यांकन कार्य से विरत रहें और शोक सभा के पश्चात मांगों का ज्ञापन प्रदेश के मुख्यमंत्री को प्रेषित किया है।

श्रद्धांजलि अर्पित करने वालों में केपी इंटर कालेज में एकजुट प्रदेश उपाध्यक्ष उपेन्द्र वर्मा, राजकीय इंटर कालेज में प्रदेश संरक्षक डॉ हरिप्रकाश यादव, सीएवी इंटर कालेज में जिला मंत्री देवराज सिंह, एंग्लो बंगाली में मंडल मंत्री लक्ष्मी नारायण एवं यशवंत यादव, भारत स्काउट इंटर कालेज में जिला अध्यक्ष मो जावेद,मिथलेश मौर्य,केशर विद्यापीठ में प्रदेशीय आय व्यय निरीक्षक सुरेंद्र प्रताप , कुलभास्कर आश्रम इंटर कालेज में प्रदेशीय मंत्री तीर्थराज पटेल, क्रास्तवेथ इंटर कालेज में प्रदेश संगठन मंत्री सुरेश पासी अशोक कनौजिया सहित बड़ी संख्या में शिक्षक थे।

Anveshi India Bureau

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments