Saturday, July 13, 2024
spot_img
HomePrayagrajAllahabad University : आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के जरिये रोजगार दिलाएगा इविवि, कोई भी...

Allahabad University : आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के जरिये रोजगार दिलाएगा इविवि, कोई भी व्यक्ति ले सकेगा दाखिला

प्रवेश के लिए न उम्र की सीमा है और न ही रोज विश्वविद्यालय आने की बाध्यता। विद्यार्थी ऑनलाइन ही पाठ्यक्रम पूरा कर सकेंगे। ये पाठ्यक्रम 15 हफ्ते यानी 90 दिनों के होंगे। इनकी कक्षाएं पांच अगस्त से शुरू होने जा रही हैं। इविवि की पीरओ प्रो.जया कपूर ने बताया कि सर्टिफिकेट प्रोग्रामों में वर्ष में दो बार प्रवेश होंगे।

अगर आप बाजार में निवेश के तरीके सीखना चाहते हैं, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस(एआई) और कंप्यूटर अप्लीकेशन के जरिये रोजगार के रास्ते तलाश रहे हैं तो भटकने की जरूरत नहीं। इलाहाबाद विश्वविद्यालय (इविवि) नई शिक्षा नीति के तहत कौशल आधारित 18 नए सर्टिफिकेट कोर्स शुरू करने जा रहा है।

इसके लिए जरूरी नहीं कि आप विश्वविद्यालय के विद्यार्थी हों, कोई भी व्यक्ति दाखिला ले सकता है। प्रवेश के लिए न उम्र की सीमा है और न ही रोज विश्वविद्यालय आने की बाध्यता। विद्यार्थी ऑनलाइन ही पाठ्यक्रम पूरा कर सकेंगे। ये पाठ्यक्रम 15 हफ्ते यानी 90 दिनों के होंगे। इनकी कक्षाएं पांच अगस्त से शुरू होने जा रही हैं।

इविवि की पीरओ प्रो.जया कपूर ने बताया कि सर्टिफिकेट प्रोग्रामों में वर्ष में दो बार प्रवेश होंगे।इन पाठ्यक्रमों में अगस्त के प्रथम सप्ताह तक एवं जनवरी के द्वितीय सप्ताह तक प्रवेश लिए जाएंगे। इस संबंध में समस्त जानकारी प्रवेश भवन से प्राप्त की जा सकती है। इन पाठ्यक्रमों का मुख्य उद्देश्य आम लोगों को आर्थिक एवं सामजिक रूप से आत्मनिर्भर बनाना है। सर्टिफिकेट कोर्स के लिए पांच हजार रुपये फीस निर्धारित की गई है।

विदेशी भाषाएं भी खोलेंगी रोजगार के द्वार

विश्वविद्यालय में रोजगारोन्मुखी विदेशी भाषाओं में भी सर्टिफिकेट प्रोग्राम करवाए जाएंगे। इसमें फ्रेंच, जर्मन, अरबी, मंदारिन, रूसी प्रमुख हैं। इनको सीखने के बाद कोई भी विद्यार्थी देश-विदेश में अपने अनुरूप रोजगार सृजित करने में समर्थ होगा। इस पाठ्यक्रम को भारतीय सेना के अधिकारियों और रोजगार के लिए विदेश जाने वालों की जरूरत के अनुसार विकसित किया गया है। साथ ही विद्यार्थी ‘संचार कौशल और व्यक्तित्व विकास’ के गुर भी सीखेंगे, जिससे वे एक कुशल संचारक बन सकें।

ये हैं सर्टिफिकेट प्रोग्राम

भारतीय संस्कृति और विरासत

कंप्यूटर अप्लीकेशन

बेसिक इलेक्ट्रॉनिक्स

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस

डिस्कवरीज इन साइंस एंड टेक्नोलॉजी

विदेशी भाषाएं : फ्रेंच, जर्मन, अरबी, मंदारिन, रूसी

भारतीय संविधान के मूल सिद्धांत

वित्तीय निवेश रणनीतियां

संगीत (सितार)

संगीत (तबला)

औषधीय पौधे

स्वास्थ्य, स्वच्छता, पोषण और योग

मानसिक स्वास्थ्य

बेकरी और कन्फेक्शनरी तकनीक

पुष्प सज्जा कला

कढ़ाई कौशल : हाथ से डिजिटल तक

ड्रेस डिजाइनिंग

भाषा प्रवीणता और व्यक्तित्व विकास

 

Courtsyamarujala.com

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments